Read Best Indian Sex Stories Daily

/ Hot Erotic Sex Stories

सहेली के भाई ने चोदा मुझे – Audio Sex Stories

audio sex story
audio sex stories

नमस्कार साथियों, मेरा नाम प्रणीत है और मैं जालंधर की रहने वाली हूँ. यह बात तब की है जब मैं 20 साल की थी और कोलेज में पढाई करती थी. मित्रों ये कहानी आप देशीअडल्टस्टोरी डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं. कोलेज में कल्पना और कमलिनी हमारी खास सहेलियां थी. कल्पना के डैड आर्मी में है और कमलिनी के मम्मी डेडी दोनों ही एक स्कुल में टीचर थे.

कल्पना का भाई प्रयुज हमारे साथ ही कोलेज में था लेकिन वह हम से एक साल छोटा था. प्रयुज मुझे पहले से ही अच्छा लगता था और वह मुझे अक्सर घूरता रहेता था. कल्पना और कमलिनी दोनों को यह बात पता नहीं थी. मेरे मन में भी इस देसी लड़के के साथ चुदने की इच्छा जागी थी पर दोस्त का दिल टूटे यह भी मुझे पसंद नहीं था. मैं अक्सर प्रयुज के बारे से सोच कर अपनी चूत में ऊँगली लिया करती थी. मैं बस उसका लंड एक बार अपनी चूत के अंदर लेना चाहती थी. मेरा यह मौका आखिरकार सफल हुआ, उस दिन मैं कल्पना के घर गई थी……!

🎧 भांजे से चुदवाई अपनी चूत

कल्पना से एक सब्जेक्ट के नोट्स लेने के लिए एक दोपहर को मैं उसके घर गई थी, उसका मोबाइल बंध था इसलिए हमारी उससे बात नहीं हो पाई थी. मैं घर जा के उसका डोरबेल बजाने लगी. डोर प्रयुज ने ही खोला और वह केवल बनियान और एक कोटन की लेंघी पहने हुआ था. शायद गर्मी से बचने के लिए उसने कम कपडे पहने हुए थे.

मैंने थोडा शरमाते हुए पूछा, कल्पना है….? प्रयुज ने कहा, नहीं वो तो मोम डेड के साथ अंकल के घर गई है. अंकल की तबियत ख़राब है. उसने मुझे कहा, अंदर आइये. मेरा मन भी मुझे अंदर जाने को कहने लगा.

मैं अंदर गई और सोफे पर बैठी. तभी हमारी नजर टीवी के पास पड़े डीवीडी प्लेयर के उपर पड़ी. उसके उपर एक 2X मूवी का डीवीडी हमारी चूत को उकसाने के लिए काफी था. मैं मनोमन सोच रही थी जो आज प्रयुज हाथ पकड़ा दे तो मैं उसका लंड पूरा चूस लूँ. प्रयुज मेरे लिए पानी ले आया और हम दोनों बातें करने लगे.

मैने थोड़ी बातें इधर उधर कर के प्रयुज से पूछा के गर्लफ्रेंड बनी के नहीं. उसने हँसते हुए कहा बनानी तो हैं पर डर लगता हैं दीदी को पता चला तो घर में पिट्वाएगी. मैं उसे कहा दीदी का इतना टेंशन मत लो प्रयुज, जवानी में सब चलता है. थोडा क्रेज़िनेस तो चाहिए ना. वैसे कोई तो अच्छी लगती होंगी तुम्हे. मैंने उसकी आँखों में अपनी आँखे गडाई थी.

ससुर जी के साथ बदमाशी – Audio Sex Story

प्रयुज जैसे की मेरे नजरो से डर रहा था और उसने मुझ से आँखे चुराते हुए कहाँ, नहीं रहने दो अभी फिर कभी बताऊंगा. उसका यह शरमाना हमारी चूत को और भी बेताब कर रहा था.मैं खड़ी हुई और उसके एकदम करीब बैठ गई, उसकी जांघे और हमारी जांघे टच हो रही थी. प्रयुज हमारी तरफ देख के बोला रहने दो प्रणीत जी मेरा कुछ मेल नाही खाने वाला…मैंने उसकी आँख से आँख मिलाई और उसने सीधे ही हमारी होंठो पर अपने हाथ रखे और बोला…मुझे आप पसंद हो प्रणीत जी….!!!

वैसे मैं तू उसे उसका कर अपनी चूत तृप्त करवाना चाहती थी लेकिन मैंने मनोमन सोचा प्रणीत यह तो तुझे ही चाहता है यह चूत चाटेगा भी और चुसेगा भी….! मैंने ख़ाली ख़ाली शर्माने की एक्टिंग की और वो बोला, देखा मैंने कहा था ना की मेरा मेल नहीं खाएगा. मैंने अब उसकी तरफ देखा और कहा, प्रयुज ऐसी बात नहीं है…मुझे भी तुम पहले से ही अच्छे लगते हों. इससे पहले की वोह भावनाओं मैं बह जाए में उससे लपट गई और उसे अपने चुंचो से छाती का स्पर्श करवा दिया. वोह मुझे कस के गले लगाने लगा और उसका तगड़ा लौड़ा हमारी चूत के बिलकुल उपर था.

मैंने प्रयुज के सीने पे हाथ फेरा, उसका दिल 100 की स्पीड से धडक रहा था और वह मेरे प्रत्येक स्पर्श से लम्बी साँसे लेता था. मैंने हाथ निचे सरकाया और उसकी लेंघी में हाथ डाल के लंड को दबा दिया. प्रयुज बोला….ओह प्रणीत,…आई लव यु. मैंने लंड को दबाये रखा और कहा…आई लव यु टू प्रयुज. जल्दी कपडे उतारो मुझे तुम्हारा लंड देखना है. प्रयुज दंग रह गया क्यूंकि मैं पहली बार लंड बोली थी उसके सामने. उसने अपने कपडे उतारे और मेरे स्तन को दबाने लगा.

🎧 भाई का लौंड चुनने की मजा – Audio Sex Stories

मैंने भी अपना फ़्रोक और इजार खोल दी. उसने मेरे ब्रा पेंटी को हटाया और हमारी जवान अंग देख उसका लौड़ा क़ुतुब मीनार के जैसा खड़ा हो गया. मैंने उसके लौड़े को थोडा हिलाया और उसके मुहं से आह आह निकलने लगा. मैंने कुर्सी में बैठ के अपनी टाँगे फैला दी और प्रयुज से कहा…प्रयुज कामरस चखोंगे. वह हमारी बात समझ गया और कुर्सी के पास निचे बैठ गया, मैंने दोनों टाँगे उसके कंधो पर रख दी. प्रयुज पहले मेरे चूत के होंठो को स्पर्श करने लगा और फिर उसने धीमे से चूत के अंदर अपनी जीभ लगाईं. मेरे पुरे शरीर से जैसे की करंट दौड़ गया. उसने तुरंत जीभ अंदर घुसाई और मेरे चूत के रस को पिने लगा. वह अपनी जीभ से चूतके होंठो को चूस रहा था और फिर बिच बिच में होंठो को चाट रहा था. हमारी उत्तेजना भी उसकी तरह ही चरम सीमा पर थी.

वोह रुका और उसने अपना मुहं चूत से निकाला. मैंने खड़े होते हुए उसे कुर्सी में बेठने के लिए इशारा किया. वह जैसे कुर्सी में बैठा मैने उसका लंड हाथ में पकड़ा और उसे हिलाने लगी. उसने एंठना चालू किया और मैंने उसके एंठन को बढ़ावा देते हुए उसका लौड़ा अपने मुहं में ले लिया. प्रयुज लंड मेरे मुहं में धकेलने लगा और मैं अपनी चूत के उपर अपना हाथ रख के सहलाने लगी. मुझे भी चूत के अंदर लंड ले लेने की तलब लगी थी. प्रयुज धक्के दे दे मेरा मुहं चोद रहा था. मुझे अपने स्तन के बिच उसका लंड लेने की फेंटसी हुई और मैंने उसे यह कहा. प्रयुज ने मुझे निचे लिटाया और वह मेरे स्तन के बिच लंड दे के मुझे टिट-फक करने लगा, मैं उसके लौड़े पर थूंक थूंक के उसे गिला रख रही थी. मेरे हाथ मेरे चूत के ऊपर चल रहे थे. मुझे अब लंड से चुदाई की एक असीम उछाल सी आ गई थी.

🎧 Amit ki gaand marne ki kahani meri jubani – Audio Sex Story

प्रयुज ने मेरे पांव खोले और अपना लंड का सुपाड़ा उसके उपर घिसने लगा. मुझे बहुत ही मजा आ रहा था और मैं उसके तरफ प्यार से देख रही थी. हमारी चूत से प्रवाही निकलने लगे और मैंने उसका लंड पकड के अंदर की तरफ मोड़ा. उसका लंड मुझे गर्म गर्म लग रहा था, प्रयुज ने सीधा लंड अंदर किया और मैं इस उत्तेजना को बर्दास्त नहीं कर पाई मैंने उसे गले लगा लिया. प्रयुज ने लंड अब घचघच अंदर डालना चालू किया.

उसके लंड से मुझे अंदर एक अजीब मजा आ रहा था और यह मजा शब्दों में बयान नहीं हो सकता. प्रयुज लंड डाल डाल के बहार निकाल रहा था और चूत के अंदर हमारी उत्तेजना बढती ही जा रही थी. मैंने अपने दोनों हाथ प्रयुज के गले में डाले हुए थे और वह जैम के मुझे चोदता जा रहा था.

प्रयुज का लंड थकने का नाम ही नहीं ले रहा था. मुझे तो ऐसा था की वह थोड़ी चुदाई करने के बाद चूत में अपना रस निकाल देगा लेकिन वह तो और भी जम के चुदाई करने लगा. उसने अपना लौड़ा अब हमारी चूतसे निकाला और उसने मुझे कुतिया जैसा बना दिया. मैं जैसे ही उलटी हो के डौगी स्टाइल में आई.

🎧 Chacha ke sath chudai ki maza – Audio Sex Story

उसने हमारी चूतके अंदर पीछे से अपना लौड़ा घुसेड दिया. वोह मेरे गांड को दोनों साइड से पकड के ठोकने लगा. मेरे चूत से अब झाग तक निकलने लगा था लेकिन वह अभी भी वहीं झडप से हमारी ठुकाई कर रहा था. प्रयुज ने मुझे कंधे से पकड़ा हुआ था और दोनों जगह उसका स्पर्श मुझे उत्तेजना देने के लिए काफी था.

मैं अब थक सी गई थी. प्रयुज के झटके बढ़ते ही गए और तभी मुझे अंदर लगा की कुछ पानी चूतके अंदर छुटा….और तभी उसके साथ थोडा ज्यादा गर्म पानी निकला – पहला पानी हमारी चूतसे निकला था और गर्म पानी प्रयुज का वीर्य था जो चूत के होंठो से भी बहार टपक रहा था. हम दोनों मस्त शांत हो गए और एक दुसरे की बाहों में ही सो गए.

प्रयुज और हमारी चुदाई इसके बाद रुकी नहीं हैं…प्रयुज और हमारी चुदाई चलती रहती है..उसे हमारी चूत और मुझे उसका लंड भा सा गया है. उसने कितनी बार हमारी गांड भी मारी है जिसकी कहानी फिर कभी फुर्सद से सुनाउंगी.

Related Stories

4.4 5 votes
Article Rating
4.4 5 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
4 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Swaminathan
Swaminathan
4 months ago

Pls use like chutad per lund ragad raha tha, mere chutad dabaa diye, chutad mote hai

Suny
Suny
3 months ago

Chute me mota lund ghusedh Diya .chute phat gayi

pawan kumar
pawan kumar
3 months ago
Reply to  Suny

Or ko be moka do

Pushpendra
Pushpendra
3 months ago
Reply to  Suny

hii

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: